Rula Ke Gaya Sapna Mera -Lata Mangeshkar, Jewel Thief

  • Post comments:0 Comments

Title : रुला के गया सपना मेरा
Movie/Album/Film: जुअल थीफ -1967
Music By: एस.डी.बर्मन
Lyrics : शैलेन्द्र
Singer(s): लता मंगेशकर

रुला के गया सपना मेरा
बैठी हूँ कब हो सवेरा
रुला के गया सपना…

वही है ग़म-ए-दिल, वही है चंदा-तारे
वही हम बेसहारे
आधी रात वही है, और हर बात वही है
फिर भी न आया लुटेरा
रुला के गया सपना…

कैसी ये ज़िंदगी, कि साँसों से हम ऊबे
कि दिल डूबा, हम डूबे
इक दुखिया बेचारी, इस जीवन से हारी
उस पर ये ग़म का अन्धेरा
रुला के गया सपना…

Leave a Reply