Aapki Inayatein Aapke Karam Lyrics-Lata Mangeshkar, Vandana

  • Post comments:0 Comments

Title- आपकी इनायतें आपके करम
Movie/Album- वंदना Lyrics-1975
Music By- रवि
Lyrics- असद भोपाली
Singer(s)- लता मंगेशकर

आपकी इनायतें आपके करम
आप ही बताएँ कैसे भूलेंगे हम
आपकी इनायतें…

इक बुझे शमा की तरह था जो दिल मेरा
देवता की आरती का बन गया दीया
आपकी इनायतें आपके करम…

क्या हसीन ख़्वाब नज़र में संवर गये
हर क़दम पर जैसे उजाले बिखर गये
आप की इनायतें आपके करम…

प्यार का सुरूर यही बेखुदी रहे
इस नशे में चूर मेरी ज़िन्दगी रहे
आप की इनायतें आपके करम…

इल्तजा यही है दिल-ए-बेक़रार की
तोड़ना न डोर कभी मेरे प्यार की
आप की इनायतें आपके करम..

Leave a Reply