Aisi Haseen Chandni Lyrics-Kishore Kumar, Dard

  • Post comments:0 Comments

Title – ऐसी हसीन चांदनी Lyrics
Movie/Album- दर्द Lyrics-1981
Music By- खय्याम
Lyrics- नक्श ल्यालपुरी
Singer(s)- किशोर कुमार

ऐसी हसीन चाँदनी पहले कभी न थी
शामिल है इसमें आपके चेहरे का नूर भी
ऐसी हसीन चाँदनी…

ज़ुल्फ़ें हैं या घटाओं की परछाईयाँ सी हैं
आँखों में नीली झील की गहराईयाँ सी हैं
लब हैं कली गुलाब की, रुखसार चम्पई
ऐसी हसीन चाँदनी…

कीजे मेरा ख्याल अजी कुछ तो सोचिए
अपनी निग़ाह अपने तबस्सुम को रोकिए
हद से गुज़रती जाए है दीवानगी मेरी
ऐसी हसीन चाँदनी…

तन्हाईयों का प्यार से दामन सजाइए
तड़पा लिया, सता लिया, अब आ भी जाइए
कब से है इन्तज़ार में, बाँहें खुली हुई
ऐसी हसीन चाँदनी…

Leave a Reply