Chaahat Na Hoti Lyrics- Alka Yagnik, Vinod Rathod, Chaahat

  • Post comments:0 Comments

Title ~ चाहत ना होती Lyrics
Movie/Album ~ चाहत Lyrics- 1996
Music ~ अनु मलिक
Lyrics ~ निदा फ़ाज़ली
Singer (s)~अल्का याग्निक, विनोद राठोड़

चाहत नदिया चाहत सागर
चाहत धरती चाहत अम्बर
चाहत राधा चाहत गिरधर

दिल का धड़कना यही चाहत है
नींद न आना यही चाहत है
चाहत ना होती कुछ भी ना होता
मैं भी ना होती, तू भी ना होता
तू भी ना होती, मैं भी ना होता
दिल का धड़कना…

तुम मुझसे अलग कब हो
मैं तुमसे जुदा कब हूँ
पानी में कँवल जैसे
रहते हो मुझी में तुम
देखूँ तो तुम्हें देखूँ
सोचूँ तो तुम्हें सोचूँ
सागर में नदी जैसे
बहते हो मुझी में तुम

चाहत खुशबू, चाहत रंगत
चाहत मूरत, चाहत कुदरत
चाहत गंगा, चाहत जमुना
होश गँवाना यही चाहत है
जान से जाना यही चाहत है
चाहत ना होती…

जब तू नहीं होता है
उस वक्त भी हर शय में
हर गीत में हर लय में
तू ही नज़र आता है
बिखरा के कभी ज़ुल्फ़ें
चमका के कभी चेहरा
तुम ही मेरी दुनिया के
दिन रात सजाते हो

चाहत घूँघट, चाहत दर्पण
चाहत सजनी, चाहत साजन
चाहत पूजा, चाहत दर्शन
आँख भर आना यही चाहत है
जी घबराना यही चाहत है
चाहत ना होती…

Leave a Reply