Chup Tum Raho Lyrics- K.S.Chithra, M.M.Kreem, Is Raat Ki Subah Nahin

  • Post comments:0 Comments

Title ~ चुप तुम रहो Lyrics
Movie/Album ~ इस रात की सुबह नहीं Lyrics- 1996
Music ~ एम.एम.क्रीम – कीरवानी
Lyrics ~ निदा फ़ाज़ली
Singer (s)~के.एस.चित्रा, एम.एम.क्रीम

चुप तुम रहो, चुप हम रहें
ख़ामोशी को ख़ामोशी से
ज़िन्दगी को ज़िन्दगी से
बात करने दो
चुप तुम रहो…

आँखों में खो जाये आँखें
बोले हाथ से हाथ
बाहों में छुप कर
साँसों से जैसे डोले रात
उँगलियों को उँगलियों से
हुस्नों को शोखियों से
बात करने दो
चुप तुम रहो…

होंठों पर होंठों से लिखें
बिन शब्दों के गीत
धरती से अंबर तक
गूंजे जिस्मों का संगीत
बेख़ुदी को बेख़ुदी से
आशिक़ी को आशिक़ी से
बात करने दो
चुप तुम रहो…

Leave a Reply