Dekho Mohe Laga Solva Saal Lyrics

  • Post comments:0 Comments

Dekho Mohe Laga Solva Saal Lyrics- Asha Bhosle, Md.Rafi, Sudha Malhotra, Solva Saal

Title : देखो मोहे लागा सोलवां साल
Movie/Album: सोलवां साल (1958)
Music By: सचिन देव बर्मन
Lyrics By: मजरूह सुल्तानपुरी
Performed By: आशा भोंसले, मोहम्मद रफ़ी, सुधा मल्होत्रा

देखो जी मेरा हाल, बदल गई चाल
देखो मोहे लागा सोलवां साल
देखो जी मेरा हाल…

चाँद सितारे देखूँ बाबू, तो रहे नहीं काबू
चलाये कैसे जादू, रातें बहार की
दो दिनों की ये जवानी, अजब मस्तानी
हो सुन के दीवानी, बातें बहार की
कहे जी मेरे हाल, ये उलझे-उलझे बाल
देखो मोहे लागा सोलवां साल…

राह चलूँ जो अकेले, तो लाखों अलबेले
पुकारे दिल ले ले, ओ नैन वालिये
तोड़ के अकल की डोरी, निकल पड़ी गोरी
काहे को चोरी-चोरी, दो नैन वालिये
ये सीधी-साधी चाल, हुई रे जंजाल
देखो मोहे लागा सोलवां साल…

हो रही मैं भोली-भाली, उसी की मतवाली
नज़र जिनने डाली, आँसू निकाल के
संभल के गोरी, तेरा जग है दीवाना
जो अँखियाँ मिलाना कदम जो उठाना
तो देख-भाल के
अजब है ये साल, समझ का है काल
देखो मोहे लागा सोलवां साल…

ज़ात मर्दों की छोटी, नज़र इनकी खोटी
लबों पे झूठी-झूठी, है बात प्यार की
छोड़ो गोरी ये कहानी, है कितनी सुहानी
ये रुत मस्तानी, ये रात प्यार की
सुनाऊँ जिसे हाल, बिछाये वो ही जाल
देखो मोहे लागा सोलवां साल…

देखो इन्हें लागा सोलवां साल

Leave a Reply