Duur Strings, Duur

  • Post comments:0 Comments

Title~ दूर Lyrics
Movie/Album~ दूर 2000
Music~ बिलाल मक़सूद
Lyrics~ अनवर मक़सूद
Singer(s)~ स्ट्रिंग्स, फैज़ल कपाडिया, मिकैल कपाडिया

दूर से कोई आये
कहीं चुपके से वो दिल में समां जाए
साजना…

देखें मुझे जब वो आँखें, मैं खो जाऊं
इन आँखों के रस्ते, मैं उसके दिल में समाऊँ
कुछ कह ना पाऊँ उसे मैं, कुछ सुन ना पाऊँ
उसके बिना मेरा जीवन, जैसे कोई सूना गाँव
दूर…

सूरज की किरणों से बनता है चेहरा तुम्हारा
इक यही चेहरा है मेरा जीवन सहारा
आँखें तेरी मेरी नदियाँ, पलकें किनारा
लाखों दुखों में अकेला है मेरा ये दिल बेचारा
दूर…

Leave a Reply