Har Karam Apna Karenge Lyrics-Mohammed Aziz, Kavita Krishnamurthy, Karma

  • Post comments:0 Comments

Title – हर करम अपना करेंगे Lyrics
Movie/Album- कर्मा -1986
Music By- लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics- आनंद बक्षी
Singer(s)- कविता कृष्णमूर्ति, मोहम्मद अज़ीज़

मेरा कर्मा तू, मेरा धर्मा तू
तेरा सब कुछ मैं, मेरा सब कुछ तू
हर करम अपना करेंगे ऐ वतन तेरे लिए
दिल दिया है, जाँ भी देंगे, ऐ वतन तेरे लिए

तू मेरा कर्मा, तू मेरा धर्मा, तू मेरा अभिमान है
ऐ वतन, महबूब मेरे, तुझपे दिल क़ुर्बान है
हम जियेंगे और मरेंगे ऐ वतन तेरे लिए
दिल दिया है…

हिन्दू मुस्लिम सिख ईसाई, हमवतन, हमनाम हैं
जो करे इनको जुदा मज़हब नहीं, इल्ज़ाम है
हम जियेंगे और मरेंगे ऐ वतन तेरे लिए
दिल दिया है…

तेरी गलियों में चलाकर नफ़रतों की गोलियाँ
लूटते हैं कुछ लुटेरे दुल्हनों की डोलियाँ
लुट रहे है आप वो, अपने घरों को लूट कर
खेलते हैं बेखबर, अपने लहू से होलियाँ
हम जियेंगे और मरेंगे ऐ वतन तेरे लिए
दिल दिया है…

Leave a Reply