Humne Sanam Ko Khat Likha Lyrics-Lata Mangeshkar, Shakti

  • Post comments:0 Comments

Title – हमने सनम को खत लिखा Lyrics
Movie/Album- शक्ति -1982
Music By- राहुल देव बरमन
Lyrics- आनंद बक्षी
Singer(s)- लता मंगेशकर

हमें बस ये पता है वो बहुत ही ख़ूबसूरत है
लिफ़ाफ़े के लिये लेकिन पते की भी ज़रूरत है

हमने सनम को ख़त लिखा, ख़त में लिखा
ऐ दिलरुबा, दिल की गली, शहर-ए-वफ़ा
हमने सनम को…

पहुँचे ये ख़त जाने कहाँ, जाने बने क्या दास्ताँ
उस पर रक़ीबों का ये डर, लग जाये उनके हाथ गर
कितना बुरा अंजाम हो, दिल मुफ़्त में बदनाम हो
ऐसा न हो, ऐसा न हो
अपने खुदा से रात दिन माँगे दुआ
हमने सनम को ख़त…

पीपल का ये पत्ता नहीं, काग़ज़ का ये टुकड़ा नहीं
इस दिल के ये अरमान है, इसमें हमारी जान है
ऐसा ग़ज़ब हो जाये ना, रस्ते में ये खो जाये ना
हमने बड़ी ताक़ीद की, डाला इसे जब डाक में
ये डाक बाबू से कहा
हमने सनम को खत…

बरसों जवाब-ए-यार का, देखा किये हम रास्ता
इक दिन वो ख़त वापस मिला और डाकिये ने ये कहा
इस डाक खाने में नहीं, सारे ज़माने में नहीं
कोई सनम इस नाम का, कोई गली इस नाम की
कोई शहर इस नाम का
हमने सनम को…

Leave a Reply