Jaag Dard E Ishq Jaag Lyrics – Anarkali – 1953

  • Post comments:0 Comments

Jaag Dard E Ishq Jaag Lyrics – Anarkali (1953)

Anarkali (1953) Movie Songs Lyrics
Movie/album: Anarkali (1953)
Singers: Hemanta Kumar Mukhopadhyay, Lata Mangeshkar
Song Lyricists: Rajendra Krishan
Music Composer: Ramchandra Narhar Chitalkar (C. Ramchandra)
Music Director: Ramchandra Narhar Chitalkar (C. Ramchandra)
Director: Nandlal Jaswantlal
Music Label: Saregama
Starring / Film cast: Pradeep Kumar, Beena Roy, Mubarak, Noor Jahan, Manmohan Krishan, Sulochana, S L Puri, Kuldip Kaur
Genres: Sad
Year : 1953

जाग दर्द-ए-इश्क़ – Jaag Dard-e-Ishq Lyrics (Lata, Hemant, Anarkali – 1953)

जाग दर्द-ए-इश्क़ जाग, जाग दर्द-ए-इश्क़ जाग
दिल को बेक़रार कर,
छेड़ के आँसुओं का राग
जाग दर्द-ए-इश्क़ जाग…

आँख ज़रा लगी तेरी, सारा जहान सो गया
ये ज़मीन सो गई, आसमान सो गया
सो गया प्यार का सुहाग
जाग, जाग…

किसको सुनाऊँ दास्तां, किसको दिखाऊँ दिल के दाग़
जाऊँ कहाँ कि दूर तक, जलता नहीं कोई चिराग़
राख बन चुकी है आग, राख बन चुकी है आग
दिल को बेक़रार कर, छेड़ के आँसुओं का राग
जाग दर्द-ए-इश्क़…

ऐसी चली हवा-ए-ग़म, ऐसा बदल गया समा
रूठ के मुझ से चल दिये, मेरी खुशी के कारवां
डस रहें हैं ग़म के नाग

जाग दर्द-ए-इश्क़…

Leave a Reply