Jiya Sharmaye Nazar Jhuki Lyrics

  • Post comments:0 Comments

Jiya Sharmaye Nazar Jhuki Lyrics-Asha Bhosle, Dulhan

Title : जिया शर्माए नज़र झुकी
Movie/Album- दुल्हन -1958
Music By- रवि
Lyrics By- एस.एच.बिहारी
Singer(s)- आशा भोंसले

जिया शर्माए, नज़र झुकी जाये
भाभी कैसे कहूँ मैं दिल की बात
पिया हो जैसे चँदा पूनम की रात
जिया शरमाए नज़र…

सूट बूट में ऐसा लागे जैसे हो कोई अफसर
बड़े बड़े गुणवान भी काटे उसके आगे चक्कर
जो भी टक्कर लेने आये खाये उससे मात
पिया हो जैसे चँदा…

ना मांगू मैं महल दो महलें, ना रानी का ठाट
अगर पति का प्यार मिले तो, चलेगी टूटी खाट
सीता बनकर रहूँगी, मैं भी अपने राम के साथ
पिया हो जैसे चँदा…

बाँध के सेहरा आये वो, मैं दुल्हन बन शरमाऊँ
छोड़ के बाबुल की नगरी, मैं देस पिया के जाऊँ
जग देखे, हो दूल्हा ऐसा, ऐसी हो बारात
पिया हो जैसे चँदा..

Leave a Reply