Kal Ho Naa Ho Sonu Nigam, Title Track

  • Post comments:0 Comments

Title~ कल हो न हो Lyrics
Movie/Album~ कल हो न हो 2003
Music~ शंकर एहसान लॉय
Lyrics~ जावेद अख्तर
Singer(s)~ सोनू निगम

हर घड़ी बदल रही है रूप ज़िंदगी
छाँव है कभी, कभी है धूप ज़िंदगी
हर पल यहाँ जी भर जियो
जो है समाँ कल हो न हो

चाहे जो तुम्हें पूरे दिल से
मिलता है वो मुश्किल से
ऐसा जो कोई कहीं है
बस वो ही सबसे हसीं है
उस हाथ को तुम थाम लो
वो मेहरबाँ कल हो न हो
हर पल यहाँ…

पलकों के ले के साये
पास कोई जो आये
लाख सम्भालो पागल दिल को
दिल धड़के ही जाये
पर सोच लो इस पल है जो
वो दास्ताँ कल हो न हो
हर घड़ी बदल रही है…

Leave a Reply