Kitni Bechain Ho Ke Alka Yagnik, Udit Narayan, Kasoor

  • Post comments:0 Comments

Title~ कितनी बेचैन हो के Lyrics
Movie/Album~ कसूर 2001
Music~ नदीम श्रवण
Lyrics~ समीर
Singer(s)~ अलका याग्निक, उदित नारायण

कितनी बेचैन होके तुमसे मिली
तुमको क्या थी ख़बर
थी मैं कितनी अकेली

कितना बेचैन होके तुमसे मिला
तुमको क्या थी ख़बर
था मैं कितना अकेला

के कितनी मोहब्बत है तुमसे
ज़रा पास आके तो देखो
क्या आग है धड़कनों में
गले से लगा के तो देखो
बताई ना जाये ज़ुबां से ये हालत
मेरे जिस्म -ओ -जां को तुम्हारी है चाहत
कितना बेचैन हो के…

जो है दरमियाँ एक पर्दा
इसे जानेमन अब हटा दे
यही फासले कह रहे हैं
चलो दूरियों को मिटा दे
ना कोई तमन्ना है, ना कोई हसरत
मुझे तो सनम है तुम्हारी ज़रूरत
कितना बेचैन हो के…

Leave a Reply