Koi Kahe Kehta Rahe Shaan, KK, Shankar Mahadevan, Dil Chahta Hai

  • Post comments:0 Comments

Title~ कोई कहे कहता रहे Lyrics
Movie/Album~ दिल चाहता है 2001
Music~ शंकर-एहसान-लाॅय
Lyrics~ जावेद अख़्तर
Singer(s)~ शान, के.के., शंकर माहादेवन

कोई कहे कहता रहे कितना भी हमको दीवाना
कोई कहे कहता रहे कितना भी हमको दीवाना
हम लोगों की ठोकर में है यह ज़माना
जब साज़ है आवाज़ है, फिर किस लिए हिचकिचाना
जब साज़ है आवाज़ है, फिर किस लिए हिचकिचाना
हो गाएँगे हम अपने दिलों का तराना
बिगड़े दुनिया, बिगड़ने भी दो
झगड़े दुनिया, झगड़ने भी दो
लड़े जो दुनिया, लड़ने भी दो
तुम अपनी धुन में गाओ
दुनिया रूठे, रूठने दो
बंधन टूटे, टूटने दो
कोई छूटे, छूटने दो
ना घबराओ
हम हैं नए अंदाज़ क्यूँ हो पुराना
हम हैं नए अंदाज़ क्यूँ हो पुराना

आँखों में है बिजलियाँ, साँसो में तूफ़ान है
डर क्या है और हार क्या, हम इससे अंजान है
हमारे लिए ही तो है आसमान और ज़मीं
सितारे भी हभ तोड़ लेंगे हमें है यकीं
अंबर से है आगे हमारा ठिकाना
हम हैं नए अंदाज़ क्यूँ हो पुराना

सपनों का जो देस है, हाँ हम वहीं हैं पले
थोड़े से दिल -फेंक हैं, थोड़े से हैं मनचले
जहाँ भी गए अपना जादू दिखाते रहे
मुहब्बत हसीनों को अक्सर सिखाते रहे
आए हमें दिल और नींदे चुराना
हम हैं नए अंदाज़ क्यूँ हो पुराना
कोई कहे कहता रहे…

Leave a Reply