Lambi Judaai Lyrics-Hero, Reshma

  • Post comments:0 Comments

Title – लम्बी जुदाई Lyrics
Movie/Album- हीरो -1983
Music By- लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल
Lyrics- आनंद बक्षी
Singer(s)- रेशमा

बिछड़े अभी तो हम, बस कल परसों
जियूंगी मैं कैसे, इस हाल में बरसों
मौत ना आई तेरी याद क्यों आई
हाय, लम्बी जुदाई
चार दिनों दा प्यार, हो रब्बा
बड़ी लम्बी जुदाई, लम्बी जुदाई
होंठों पे आई, मेरी जान, दुहाई
हाय, लम्बी जुदाई

इक तो सजन मेरे पास नहीं रे
दूजे मिलन दी कोई आस नहीं रे
उसपे ये सावन आया आग लगाई
लम्बी जुदाई…

टूटे ज़माने तेरे हाथ निगोड़े
दिल से दिलों के तूने शीशे तोड़े
हिज्र की ऊँची दीवार बनायी
लम्बी जुदाई…

बाग उजड़ गये खिलने से पहले
पंछी बिछड़ गये मिलने से पहले
कोयल की कूक ने हूक उठायी
लम्बी जुदाई…

Leave a Reply