Luka Chhupi Lata, A.R.Rehman, Rang De Basanti

  • Post comments:0 Comments

Title~ लुका छुपी
Movie/Album~ रंग दे बसंती 2006
Music~ ए.आर.रहमान
Lyrics~ प्रसून जोशी
Singer(s)~ लता मंगेशकर, ए.आर.रहमान

लुका छुपी बहुत हुई सामने आ जा ना
कहाँ-कहाँ ढूँढा तुझे
थके है अब तेरी माँ
आजा सांझ हुई मुझे तेरी फिकर
धुंधला गयी देख मेरी नज़र आ जा ना
लुका छुपी…

क्या बताऊँ माँ कहाँ हूँ मैं
यहाँ उड़ने को मेरे खुला आसमाँ है
तेरे किस्सों जैसा भोला सलोना जहां है
यहाँ सपनों वाला
मेरी पतंग हो बेफिक्र उड़ रही है माँ
डोर कोई लुटे नहीं, बीच से काटे ना
आजा सांझ हुई…

तेरी राह तके अँखियाँ
जाने कैसा-कैसा होए जिया
धीरे-धीरे आँगन उतरे अँधेरा, मेरा दीप कहाँ
ढलके सूरज करे इशारा, चंदा तू है कहाँ
मेरे चंदा तू है कहाँ
लुका छुपी…

कैसे तुझको दिखाऊँ यहाँ है क्या
मैंने झरने से पानी माँ तोड़ के पीया है
गुच्छा-गुच्छा कई ख्वाबों का उछल के छुआ है
छाया लिए भली धूप यहाँ है
नया-नया सा है रूप यहाँ
यहाँ सब कुछ है माँ फिर भी
लगे बिन तेरे मुझको अकेला
आजा सांझ हुई…

लुका छुपी सरगम – Luka Chhupi Sargam
रेग रेग सस सरे रेरे रेरे रेरे
रेग रेग सस सप मप गम गरे
रेग रेग स सस, सऩ सप म गम गरे
संसं संसं नरें संन धन धप मप गम
पध नसं नसं नध नध पम गरे

रेग रेग ससस सन सप म गम गरे

रेग रेग रेग रेग रेग रेसरे
ऩस रेरे रेग रेग म प गमगरे
मम पध मम प, मम पध मम प
पम परें संरेंगं
रेंमं गंगं, रेंगं रेंरें, संगं रेंरें, संसं संसं
निरें संन संन, पध पम मप, पध नसं नसं
धन धप धप, मप मग मप, धन संनसं

Leave a Reply