Mile Na Phool To Kaanton Se -Md.Rafi, Anokhi Raat

  • Post comments:0 Comments

Title : मिले न फूल तो काँटों से
Movie/Album/Film: अनोखी रात -1968
Music By: रोशन
Lyrics : कैफ़ी आज़मी
Singer(s): मो.रफ़ी

मिले न फूल तो काँटों से दोस्ती कर ली
इसी तरह से बसर हमने ज़िंदगी कर ली

अब आगे जो भी हो अंजाम, देखा जाएगा
ख़ुदा तलाश लिया और बंदगी कर ली
मिले न फूल तो…

नज़र मिली भी न थी और उनको देख लिया
ज़बां खुली भी न थी और बात भी कर ली
मिले न फूल तो…

वो जिनको प्यार है चांदी से, इश्क़ सोने से
वही कहेंगे कभी हमने ख़ुदकशी कर ली
मिले न फूल तो…

Leave a Reply