Nadiya Kinare Pe Lyrics-Lata Mangeshkar, Barsaat Ki Ek Raat

  • Post comments:0 Comments

Title – नदिया किनारे पे Lyrics
Movie/Album- बरसात की एक रात Lyrics-1981
Music By- राहुल देव बर्मन
Lyrics- आनंद बख्शी
Singer(s)- लता मंगेशकर

नदिया किनारे पे हमरा बगान
हमरे बागानों पे झूमे आसमान
नदिया किनारे पे…

दर्पण सा चमके रे तिस्ता का पानी
मुख देखे पानी में भोर सुहानी
शिव जी के मंदिर में जागे भगवान
हमरे बगानो में झूमे…

पंछी हो कोई तो पिंजरा बनाऊँ
बंदी हो कोई तो मैं पहरा बिछाऊँ
बस में न आए रे मन बेईमान
हमरे बगानो में झूमे…

किसी जादूगर ने चंदा सूरज बनाए
एक निकाले बाहर एक छुपाये
खेल है जादू सा सारा जहान
हमरे बगानो में झूमे…

Leave a Reply