Pal Do Pal Ka Lyrics-Rafi, Asha, The Burning Train

  • Post comments:0 Comments

Title – पल दो पल का Lyrics
Movie/Album- द बर्निंग ट्रेन -1980
Music By- आर.डी.बर्मन
Lyrics- साहिर लुधियानवी
Singer(s)- मो.रफ़ी, आशा भोंसले

पल दो पल का साथ हमारा
पल दो पल के याराने हैं
इस मंज़िल पर मिलने वाले
उस मंज़िल पर खो जाने हैं
पल दो पल का…

दो पल, पल दो पल का साथ हमारा, हमारा
पल दो पल का…

नज़रों के शोख़ नज़राने, होंठों के गर्म पैमाने
हैं आज अपनी महफ़िल में, कल क्या हो कोई क्या जाने
ये पल ख़ुशी की जन्नत है, इस पल में जी ले दीवाने
आज की खुशियाँ एक हक़ीकत, कल की खुशियाँ अफ़साने हैं
पल दो पल का…

हर ख़ुशी कुछ देर की मेहमान है
पूरा कर ले दिल में जो अरमान है
ज़िन्दगी इक तेज़-रौ तूफ़ान है
इसका जो पीछा करे नादान है
गुमशुदा खुशियों पे क्यूँ हैरान है
वक़्त लौटे इसका कब इम्कान है
झूम जब तक झूम
झूम जब तक धड़कनों में जान है
झूमना ही ज़िन्दगी की शान है
झूम जब तक झूम
अव्वल-आख़िर हर कोई अनजान है
ज़िन्दगी बस, राह की पहचान है
झूम जब तक झूम
झूम जब तक धड़कनों में…
दोस्तों, अपना तो ये ईमान है
जो भी जितना साथ दे, एहसान है
उम्र का रिश्ता जोड़ने वाले
अपनी नज़र में दीवाने हैं
पल दो पल का…

Leave a Reply