Tujhse Naraz Nahin Zindagi Lyrics-Anup, Lata, Masoom

  • Post comments:0 Comments

Title – तुझसे नाराज़ नहीं ज़िन्दगी Lyrics
Movie/Album- मासूम -1983
Music By- आर.डी.बर्मन
Lyrics- गुलज़ार
Singer(s)- अनूप घोषाल, लता मंगेशकर

तुझसे नाराज़ नहीं ज़िन्दगी
हैरान हूँ मैं
तेरे मासूम सवालों से
परेशान हूँ मैं

जीने के लिए सोचा ही नहीं
दर्द संभालने होंगे
मुस्कुराये तो मुस्कुराने के
क़र्ज़ उतारने होंगे
मुस्कुराऊं कभी तो लगता है
जैसे होंठों पे क़र्ज़ रखा है
तुझसे…

ज़िन्दगी तेरे गम ने हमें
रिश्ते नए समझाए
मिले जो हमें धूप में मिले
छाँव के ठण्डे साये
तुझसे…

आज अगर भर आई है
बूंदे बरस जाएगी
कल क्या पता किनके लिए
आँखें तरस जाएगी
जाने कब गुम हुआ, कहाँ खोया
इक आंसू छुपा के रखा था
तुझसे…

Leave a Reply