Yahi Hai Tamanna Lyrics-Md.Rafi, Aap Ki Parchhaiyan

  • Post comments:0 Comments

Title : यही है तमन्ना Lyrics
Movie/Album/Film: आप की परछाईयाँ Lyrics-1964
Music By: मदन मोहन
Lyrics : राजा मेहदी अली खान
Singer(s): मोहम्मद रफ़ी

यही है तमन्ना तेरे दर के सामने
मेरी जान जाए, मेरी जान जाए, हाय
यही है तमन्ना…

तेरे दर पे आया तो बस आ गया मैं
न पीछे हटूँगा ज़माने के डर से
अभी आ रहा हूँ, अभी कैसे जाऊँ
मिला क्या है मुझको अभी तेरे दर से
ज़रा देख लूँ मैं, ये रुख़ की बहारें
ये क़द प्यारा-प्यारा, ये ज़ुल्फ़ों के साए, हाय
यही है तमन्ना…

गिला है मुझको तेरे ख़ुदा से
हसीं जिसने इतना बनाया है तुझको
न आता कभी तेरी गलियों में ज़ालिम
तेरे हुस्न ने खुद बुलाया है मुझको
जलाकर कोई शम्मा कैसे कहेगा
के देखो यहाँ पर ना परवाना आए, हाय
यही है तमन्ना…

मुहब्बत में तेरी अगर मौत आए
तो वो मौत कितनी हसीं मौत होगी
किसी रोज़ मैं तेरा दामन पकड़कर
जो मर जाऊँ क्या दिलनशीं मौत होगी
अगर कोई ऐसी घड़ी आ रही हो
तो मेरी दुआ है वो जल्दी से आए, हाय
यही है तमन्ना…

Leave a Reply