'नंगा राजा' कविता पर अब फिर से विवाद क्यों? । VISHNU PANDYA। PARUL KHAKHAR

  • Post comments:0 Comments



गंगा में बहते शवों पर कविता लिखना नक्सलवाद? । VISHNU PANDYA। PARUL KHAKHAR

#VishnuPandya #ShavGangaVahini #AajKaAgenda

साहित्य में महामारी पर कविता लिखना गुनाह कबसे हो गया? साहित्य अकादमी की स्वतंत्रता हो चुकी है ख़त्म? देखिए वरिष्ठ पत्रकार नीलू व्यास का विश्लेषण

Is the independence of Sahitya Akademi over? Is writing a poem on corona pandemic a crime? Watch Aaj Ka Agenda with Neelu Vyas

सत्य हिंदी ऐप डाउनलोड करें गूगल प्ले स्टोर पर – https://play.google.com/store/apps/details?id=com.satyahindi.newsapp

Support True Journalism
Join our Membership Scheme: https://www.satyahindi.com/membership-plan/

स्वतंत्र पत्रकारिता को मज़बूत कीजिए। ‘सत्य हिंदी सदस्यता योजना’ में शामिल हों: https://www.satyahindi.com/membership-plan/
'नंगा राजा' कविता पर अब फिर से विवाद क्यों? । VISHNU PANDYA। PARUL KHAKHAR
#39नग #रज39 #कवत #पर #अब #फर #स #ववद #कय #VISHNU #PANDYA #PARUL #KHAKHAR
'नंगा राजा' कविता पर अब फिर से विवाद क्यों? । VISHNU PANDYA। PARUL KHAKHAR
#39नग #रज39 #कवत #पर #अब #फर #स #ववद #कय #VISHNU #PANDYA #PARUL #KHAKHAR

visit youtube channel

Leave a Reply