शायरी गंदी मसल मसल के थूक लगाकर घुसा दिया सुई में धागा

  • Post comments:0 Comments

source

Leave a Reply